Chhattisgarh

भाई जब सिर्फ अपने मतलब का वादा पूरा करे तब जनहित का वादा याद दिलाना बहन का फर्ज-बीजेपि

घर पहुंच सरकारी सेवा का वादा पूरा कर घर घर शराब पहुंचाने वाली सरकार शराबबंदी का वादा भी पूरा करे । भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता संजय श्रीवास्तव ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के ट्वीट और शराबबंदी पर कांग्रेस नेताओं की आ रही नकारात्मक प्रतिक्रिया पर पलटवार किया है। उन्होंने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को शराबबन्दी का वादा याद दिलाते हुए कहा कि प्रदेश की महिलाओं से हाथ में गंगाजल ले कर शराबबंदी का वादा आपने किया था। उसी वादे को प्रदेश की महिलाओं की ओर से सांसद डॉ. सुश्री सरोज पांडेय यदि याद दिला रही है और प्रदेश हित में रक्षाबंधन के शुभअवसर पर पूर्ण करने की मांग कर रही है तो सरकार में होने के नाते सकारात्मकता के साथ इसे जनहित में स्वीकार करने की आवश्यकता है। क्योंकि गंगाजल हाथ में लेकर विश्वास आपने जीता था। उन्होंने मुख्यमंत्री और कांग्रेस के नेताओं से नकारात्मकता की राजनीति छोड़ कर इस विषय पर प्रदेश हित मे सकारात्मकता के साथ निर्णय करने कहा है।

भाजपा प्रवक्ता संजय श्रीवास्तव ने कहा कि सांसद सुश्री डॉ सरोज पांडेय के रक्षाबंधन पर शराबबंदी की मांग पर कांग्रेस नेताओं की इस प्रकार की नकारात्मकता कहीं न कहीं शराबबंदी की इनकी मंशा पर ही प्रश्न खड़ा करती है। उन्होंने पत्र लिखे जाने पर सवाल उठाने वाले कांग्रेस नेताओं को भी जवाब देते हुए कहा कि इस बात को गंभीरता से समझने एवं सरकार व कांग्रेस को आत्म चिंतन करने की आवश्यकता है। भाजपा प्रवक्ता संजय श्रीवास्तव ने कहा कि जब भाई अपने वादे से मुकर जाए और अपने मतलब का वादा पूरा करे तब बहन का फर्ज बनता है कि वह अपने भाई को सही रास्ता दिखाए और वादा याद दिलाये। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने अपने घोषणा पत्र में “घर पहुंच सरकारी सेवा” का वादा किया था जिसमें प्रदेश के नागरिकों को सरकारी सेवा का लाभ घर तक पहुंचाने का वादा था। शायद घर-घर शराब पहुंचा कर इस सरकार ने अपने मतलाब का वादा पूरा कर दिया है। भाजपा प्रवक्ता संजय श्रीवास्तव ने कहा कि जब घर-घर सरकारी सेवा के रूप में शराब पहुंचाने का वादा यह सरकार पूरा कर रही है ऐसे में एक बहन शराबबंदी का वादा याद दिला रही है तो इस वादे को पूरा करने के बजाय मुख्यमंत्री सहित पूरी कांग्रेस का पूरी नकारात्मकता के साथ प्रदेश की माताओं बहनों के हित मे उठ रही आवाज का विरोध किया जा रहा है। कांग्रेस की यह नकारात्मकता स्पष्ट करती है कि यह सरकार शराबबंदी करना ही नहीं चाहती है। यह सरकार घर घर शराब पहुंचा कर प्रदेश की महिलाओं का विश्वास खो चुकी है। विश्वास खो चुकी इस सरकार को सांसद सुश्री डॉ सरोज पांडेय का धन्यवाद करना चाहिए उन्होंने तो सरकार को अवसर दिया है रक्षाबंधन पर शराबबंदी करें और प्रदेश की माताओं बहनों का पुनः विश्वास जीत लें।

Related Articles

Back to top button
Close
Close