Chhattisgarh

विस् अध्यक्ष डॉ चरणदास महंत ने पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की 76 वीं जयंती पर स्मरण करते हुए दी श्रद्धांजलि।

Vice President Dr. Charandas Mahant paid tribute to the commemoration of the 76th birth anniversary of former Prime Minister Rajiv Gandhi.

राजीव जी के भारत के शेष अधूरे कार्यों को पूरा करना हमारा संकल्प – डॉ महंत

रायपुर 20 अगस्त 2020 छत्तीसगढ़ विधानसभा अध्यक्ष डॉ चरणदास महंत ने संचार क्रांति के स्वप्न दृष्टा भारत के पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की जयंती अवसर पर उन्हें स्मरण करते हुए श्रद्धांजलि अर्पित की है।डॉ चरणदास महंत ने कहा कि, भारत की तस्वीर को बेहतर बनाने में उनके योगदान का वर्णन करना मुमकिन नहीं है। भारत रत्न राजीव गांधी देश के सबसे युवा प्रधानमंत्री थे। उनकी सोच हम सबको आज भी प्रेरणा देती है।

डॉ महंत ने कहा कि, समूचा भारत राष्ट्र निर्माण में आपके योगदान को सदैव याद करता है और हमेशा याद रखेगा।

■ भारत में कंप्यूटर, ( इंटरनेट ब्रॉडबैंड ) की शुरुआत कर संचार क्रांति के नए युग की आधारशिला रखी, देश के विकास को नयी गति दी।

■ युवा भारत की नींव रखी, देश में 18 वर्ष के युवाओं को मताधिकार का अधिकार दिया।

■ त्रिस्तरीय पंचायती राज की कल्पना को मूर्त रूप दिया और ग्रामीण क्षेत्रों की जनता को प्रजातंत्र के रास्ते नयी पहचान दी।

■ मेधावी बच्चों को अच्छी शिक्षा और सुविधा देने के लिए एनपीई की मदद से जवाहर नवोदय विद्यालयों की शुरुआत हुई।

■ राजीव गांधी जी ने अर्थव्यवस्था के सेक्टर्स को खोला, साल 1988 में की उनकी चीन यात्रा ऐतिहासिक थी।

बता दें, राजीव गांधी जी को 1984 में उनकी मां व पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी जी की हत्या के बाद देश का प्रधानमंत्री बनाया गया था। उन्हें 40 साल की उम्र में प्रधानमंत्री के रूप में चुना गया था। वो अमेठी से लोकसभा का चुनाव जीतकर सांसद बने और 31 अक्टूबर 1984 को मां इंदिरा गांधी की हत्या किए जाने के बाद पार्टी कार्यकर्ताओं ने कांग्रेस की पूरी बागडोर उन्हीं के कंधों पर डाल दी। 1981 में हुए आम चुनावों में सबसे अधिक बहुमत पाकर प्रधानमंत्री बने ।डॉ महंत ने कहा कि, भारत के पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी जी के जन्मदिन को ‘सद्भावना दिवस’के रूप में मनाया जाता है, हम सब आज यह संकल्प लेते हैं कि राजीव जी के सपनों के भारत के शेष अधूरे कार्यों को पूरा करने हर संभव प्रयास करते रहेंगे।

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close
Close