Chhattisgarh

थाना खमतराई क्षेत्रांतर्गत ओव्हर ब्रीज डी.आर.एम. आफिस पास हुये लूट का चंद घंटों में ही खुलासा, प्रार्थी मुंशी ही निकला मुख्य आरोपी

Over Breeze DRM under police station Khamtarai area The robbery of the office passed in a few hours, the main accused was the only accused

 घटना का मुख्य आरोपी एवं मास्टर माइंड है स्वयं प्रार्थी कुलेश्वर साहू।
 आरोपी कुलेश्वर साहू आनंद टिम्बर ट्रेडर्स कंपनी में है मुंशी, जो करता है रकम वसूली का काम।
 आरोपी कुलेश्वर साहू के उपर ज्यादा कर्ज होने से परेशान होकर रकम गबन करने की बनायी गयी थी योजना।
 आरोपी ने अपनी योजना में अपने भांजा एवं भांजा के साथी को किया था शामिल।
 आरोपियों के कब्जे से संपूर्ण नगदी रकम 4,60,000/- रूपये किया गया बरामद।
 आरोपियों से घटना में प्रयुक्त 04 नग मोबाईल फोन एवं 02 नग दोपहिया वाहन भी किया गया है जप्त।
 प्रार्थी द्वारा मनगढंत कहानी बनाकर अज्ञात आरोपियों के विरूद्ध थाना खमतराई में अपराध क्रमांक 364/20 धारा 392 भादवि. के तहत् पंजीबद्ध कराया गया था झूठा रिपोर्ट।
 थाना में झूठा रिपोर्ट दर्ज कराने पर आरोपी कुलेश्वर साहू के उपर पृथक से दर्ज की जावेगी प्राथमिकी।
 आरोपियों की गिरफ्तारी में लगी टीम द्वारा चंद घंटों के भीतर ही आरोपियों का किया गया पर्दाफाश।
विवरण – प्रार्थी कुलेश्वर साहू ने थाना खमतराई में रिपोर्ट दर्ज कराया कि वह गंगानगर में शिव मंदिर के पास रहता है तथा आनंद टिम्बर ट्रेडर्स कंपनी में मुंशी का काम करता है। प्रार्थी दिनांक 08.08.2020 को करीबन 04.00 बजे शाम ड्यूटी में था तो प्रार्थी का मालिक भरत पटेल बोला कि 4,60,000/- रूपये पेमेंट लगा है अंकित ट्रेडर्स से 3,000,00/- रूपये तथा बाकी 1,60,000/- रूपये ईश्वर फर्नीचर से लेना है बताए तब प्रार्थी अपने टी.वी.एस. एक्सल सी.जी 04 एल जे 9938 में सवार होकर अंकित ट्रेडर्स शुक्ला बाडा फाफाडीह के पास गया और वहा से लकड़ी का पेमेंट 300000/- रूपये लिया तथा उसके बाद ईश्वर फर्नीचर फाफाडीह गया वहां से लकड़ी का पेमेंट 160000/- रूपये लेकर अपने टी.वी.एस. एक्सल वाहन क्रमांक सीजी 04 एल जे 9938 में सवार होकर पैसा को एक काले रंग के हैण्ड बैंग मे रख कर गाड़ी के डिक्की में रखकर आनंद टिम्बर भनपुरी में अपने मालिक को देने आ रहा था कि रास्ते में वाल्टियर गेट पार करने के बाद करीबन 05.45 बजे शाम को डी.आर.एम. ऑफिस के पास वाले ब्रीज के ऊपर पहुंचा था कि पीछे से मोटर सायकल में दो लोग आये तथा एक आदमी जो सफेद शर्ट तथा काला पेंट पहना था चलते हुए मोटर सायकल से उतर कर प्रार्थी के टी.वी.एस. एक्सल मोटर सायकल वाहन के पीछे में आकर बैठ गया तथा प्रार्थी के पीछे कुछ चीज लगाकर बोला हल्ला करेंगा तो जान से मार दूंगा बोलकर डिक्की चैन को खोलकर बैग में रखा नगदी रकम 4,60,000/- रूपये को निकाल लिये तथा प्रार्थी के गाड़ी से उतर कर अपने साथी के मोटर सायकल मे बैठकर खमतराई की ओर रकम लूट कर भाग गया। जिस पर अज्ञात आरोपियों के विरूद्ध थाना खमतराई में अपराध क्रमांक 364/20 धारा 392 भादवि. का अपराध पंजीबद्ध किया गया।
शहर के बीच में दिन दहाड़े हुये लाखों रूपये लूट की घटना को पुलिस उप महानिरीक्षक एवं वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक महोदय श्री अजय कुमार यादव द्वारा गंभीरता से लेते हुये अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शहर श्री तारकेश्वर पटेल, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अपराध श्री अभिषेक माहेश्वरी, थाना प्रभारी खमतराई श्री संजय पुढ़ीर, थाना प्रभारी तेलीबांधा श्री रमाकांत साहू एवं थाना प्रभारी विधानसभा श्री अश्वनी राठौर को अज्ञात आरोपियों की पतासाजी कर जल्द से जल्द गिरफ्तार करने हेतु आवश्यक दिशा निर्देश दिये गये। जिस पर वरिष्ठ अधिकारियों के निर्देशन में सायबर सेल एवं थाना खमतराई की संयुक्त टीम का गठन किया जाकर अज्ञात आरोपियों की पतासाजी प्रारंभ किया गया। टीम द्वारा प्रार्थी से घटना एवं आरोपियों के हुलियांे के संबंध में विस्तृत पूछताछ करते हुये आसपास के लोगों से भी पूछताछ किया गया। टीम द्वारा घटना स्थल व उसके आसपास लगे सी.सी.टी.व्ही.फुटेजों का अवलोकन करने के साथ ही तकनीकी विश्लेषण कर अज्ञात आरोपियों की पहचान सुनिश्चित करने के प्रयास किये जा रहे थे। प्रार्थी द्वारा टीम को बताया गया कि 02 व्यक्ति उसके पीछे-पीछे मोटर सायकल से आये तथा एक आदमी अपने चलते हुए मोटर सायकल से उतर कर उसके टी.वी.एस. एक्सल मोटर सायकल के पीछे में आकर बैठ गया एवं प्रार्थी के पीछे कुछ चीज लगाकर जान से मारने की धमकी देकर डिक्की में रखें बैग जिसमें नगदी रकम रखा था को लेकर फरार हो गये थे। जिस पर टीम के कुछ सदस्यों द्वारा प्रार्थी के बतायेनुसार उसके रकम लेकर वापस जाने के मार्गो के सी.सी.टी.व्ही. फुटेजों के कैमरों का भी अवलोकन किया गया, परंतु घटनास्थल तक प्रार्थी के पीछे कोई भी मोटर सायकल में सवार होकर उसका पीछा करते नजर नहीं आया तथा प्रार्थी बार – बार अपना बयान बदल कर लगातार टीम को गुमराह करने का प्रयास कर रहा था जिस पर आरोपियों की गिरफ्तारी में लगी टीम को प्रार्थी के उपर गहरा शक हुआ एवं टीम के सदस्यों द्वारा प्राप्त साक्ष्यों के आधार पर प्रार्थी से कड़ाई से पूछताछ प्रारंभ किया गया जिस पर प्रार्थी ज्यादा देर अपने झूठ के सामने टिक न सका और अंततः अपने भांजा राकेश साहू एवं 01 अन्य के साथ मिलकर रकम गबन करने की उक्त घटना को कारित करना स्वीकार किया गया। आरोपी कुलेश्वर साहू ने पूछताछ में बताया कि वह आनंद टिम्बर ट्रेडर्स कंपनी में मुंशी है तथा रकम वसूली का कार्य करता है। आरोपी के उपर ज्यादा कर्ज हो जाने से वह परेशान हो गया एवं रकम गबन करने की योजना बनायी। आरोपी ने इस योजना में अपने भांजा राकेश को शामिल किया तथा राकेश ने अपने साथी योगेश को शामिल किया। आरोपी कुलेश्वर साहू ने बताया के वह घटना के दिन अपने पड़ोस मंे रहने वाले दिनेश साहू से मोबाईल को मांग कर ले गया था जिसे वह वापस नहीं किया एवं आरोपी रकम 4,60,000/- रूपये वसूली कर लाकर योजनानुसार पूरी रकम को बैग सहित अपने भांजा राकेश एवं उसके साथी योगेश को दे दिया तथा लूट की झूठी कहानी बनाकर थाना में रिपोर्ट दर्ज कराया। आरोपियों की निशानेदही पर उनके कब्जे से नगदी 4,60,000/- रूपये घटना में प्रयुक्त 04 नग मोबाईल फोन एवं 02 नग दोपहिया वाहन जप्त किया गया है। आरोपियों को गिरफ्तार कर उनके विरूद्ध अग्रिम कार्यवाही किया गया।
गिरफ्तार आरोपी
01. कुलेश्वर साहू पिता मुकुंद लाल साहू उम्र 30 साल निवासी गंगा नगर खमतराई रायपुर।
02. राकेश साहू पिता दुर्योधन साहू उम्र 20 साल निवासी ग्राम मोहदा झीट अमलेश्वर जिला दुर्ग।
03. योगेश साहू पिता रमेश साहू उम्र 20 साल निवासी ग्राम मोहदा झीट अमलेश्वर जिला दुर्ग।

 

Related Articles

Back to top button
Close
Close