Chhattisgarh

छत्तीसगढ़ में प्रधानमंत्री आवास योजना में इस साल बनेंगे 1,57,815 मकान

रायपुर. 24 जुलाई 2020. छत्तीसगढ़ में प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण) के तहत चालू वित्तीय वर्ष 2020-21 में एक लाख 57 हजार 815 मकान बनाने का लक्ष्य रखा गया है। योजना के संचालक श्री एस. प्रकाश ने सभी जिला पंचायतों के मुख्य कार्यपालन अधिकारियों को परिपत्र जारी कर इसके लिए प्राथमिकता निर्धारित कर आवश्यक कार्यवाही के निर्देश दिए हैं। उन्होंने सभी जिलों को इस वर्ष योजना के तहत बनने वाले मकानों की जानकारी भी भेजी है। प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत इस वर्ष प्रदेश में बनने वाले कुल एक लाख 57 हजार 815 मकानों में अनुसूचित जनजाति वर्ग के हितग्राहियों के 74 हजार 696, अनुसूचित जाति वर्ग के 20 हजार 042, अल्पसंख्यक वर्ग के 850 और अन्य वर्गों के हितग्राहियों के 62 हजार 227 मकान शामिल हैं।

चालू वित्तीय वर्ष में बालोद, बस्तर, कांकेर, सूरजपुर और कोरिया जिले में कुल सात-सात हजार, बलौदाबाजार-भाटापारा में साढ़े नौ हजार, बलरामपुर-रामानुजगंज में चार हजार, बेमेतरा और मुंगेली में पांच-पांच हजार, बीजापुर में 250, बिलासपुर, जांजगीर-चांपा, महासमुंद और रायगढ़ में नौ-नौ हजार, दंतेवाड़ा में तीन हजार, धमतरी में 3600, दुर्ग में 3557, गरियाबंद और राजनांदगांव में सात-सात हजार, जशपुर और कोरबा में आठ-आठ हजार, कबीरधाम में साढ़े चार हजार, कोंडागांव में 4100, नारायणपुर में 285, रायपुर में 523, सुकमा में डेढ़ हजार तथा सरगुजा जिले में 12 हजार मकान बनाने का लक्ष्य रखा गया है।

Related Articles

Back to top button
Close
Close