ChhattisgarhRaipur

रायपुर में बदले की आग: दोस्तों के साथ मिलकर उसे चाकू से गोदकर मार डाला, शव देखकर पुलिसकर्मी भी एक बार सहम गए, उसके शरीर पर चाकू के वार के गहरे निशान थे, तो गले में था बड़ा सुराख..

पिता को मोहल्ले के बदमाश ने पीटा था, नाबालिग बेटे ने बदला लेने के लिए दोस्तों के साथ मिलकर उसे चाकू से गोदकर मार डाला

रायपुर : छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में बदला लेने का एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां एक नाबालिग बेटे ने पिता की बेइज्जती का बदला लेने के लिए दो दोस्तों के साथ मिलकर मुहल्ले के बदमाश की चाकू से गोदकर बेरहमी से हत्या कर दी। बदमाश की लाश सेंधवारा के पास तालाब किनारे मिली। वारदात को अंजाम देने के बाद तीनों नाबालिग आरोपी भाग गए। फिलहाल, पुलिस ने तीनों आरोपियों को पकड़ लिया है। उनसे घटना के बारे में पूछताछ की जा रही है।

कल सुबह मिली थी लाश

सोमवार सुबह सेंधवार तालाब के पास कोमल साहू नाम के व्यक्ति की लाश मिली थी। वह वहीं पास में ही रहता था। 22 अगस्त यानी रक्षाबंधन के दिन रात 9.30 बजे कोमल घर से निकला था। उसके बाद वह वापस नहीं लौटा था। जब देर रात तक कोमल घर नहीं लौटा तो उसके भाई विरेंद्र ने उसे कई जगहों पर खोजा। रातभर परिवार परेशान रहा। कोमल की मां ओम बाई भी आसपास के लोगों से पूछती रही मगर बेटे का कुछ पता नहीं चला। रात जैसे-तैसे बीती।

सुबह परेशान विरेंद्र अपनी मां के साथ घर के बाहर ही बैठा था। करीब 5 बजे मोहल्ले के ही एक परिचित ने आकर खबर दी कि कोमल की लाश सड़क पर पड़ी है। भाई भागकर वहां गया तो देखा कि कोमल मृत हालत में पड़ा है। इसके बाद पुलिस को सूचना दी गई।

मुहल्ले का बदमाश था कोमल, कई मामले थे दर्ज

कोमल का शव देखकर पुलिसकर्मी भी एक बारगी सहम गए। उसके शरीर पर चाकू के वार के गहरे निशान थे, गले में तो बड़ा सुराख हो चुका था। गले, सीने, पेट, हाथ सभी जगहों पर चाकू से वार थे। इतनी बेरहमी से हत्या की गई तो पुलिस का शक हुआ कि गुस्से में या नफरत में यह हत्या की गई है।

अधेड़ से मारपीट की बात पुलिस को पता चली

इसके बाद पुलिस ने कोमल के बारे में जांच की। पता चला कि कोमल इलाके का पुराना बदमाश रह चुका था। थाने में उसके खिलाफ चोरी, मारपीट और चाकूबाजी के मामले दर्ज हैं। यह भी सामने आया कि कुछ दिन पहले कोमल ने मोहल्ले में रहने वाले एक अधेड़ को सबके सामने पीट दिया था। पुलिस ने इसी दिशा में अपनी जांच आगे बढ़ाई।

मुहल्ले के लोगों से पूछताछ की तो पता चला कि जिस अधेड़ से कोमल ने मारपीट की थी। उसका बेटा और उसके दोस्त मोहल्ले से गायब हैं। पुलिस को शक हुआ। जांच आगे बढ़ाई तो पता चला कि ये लड़के महासमुंद और कवर्धा में अपने रिश्तेदारों के घर पर हैं।

खमतराई पुलिस की टीम ने उन जगहों पर रेड मारकर तीनों नाबालिग आरोपियों को हिरासत में लिया। शुरुआत में तो आरोपी हत्या करने से इंकार करते रहे। लेकिन जब पुलिस ने सख्ती की तो उन्होंने गुनाह स्वीकार कर लिया। हत्या की रात की पूरी कहानी पुलिस को बताई। घटना में इस्तेमाल किया गया चाकू भी इन नाबालिगों के पास से पुलिस ने बरामद किया है।

बेटे ने बदला लेने की ठानी थी, दो दोस्तों को इस प्लान में शामिल किया

पुलिस के मुताबिक, पूछताछ में आरोपी ने बताया कि पिता से मारपीट के बाद ही उसने कोमल से बदला लेने की ठान ली थी। इसके लिए उसने अपने दो साथियों को भी साजिश में शामिल कर लिया। रक्षाबंधन की शाम मोहल्ले में सन्नाटा था। अकेले में कोमल नहरपारा की तरफ गया हुआ था। यह सुनसान इलाका था।

वहां पर ही मौका पाकर आरोपी ने अपने साथियों के साथ मिलकर कोमल पर हमला कर दिया। उसके गले, सीने, पेट, हाथ सभी जगहों पर चाकू से वार किया। बाकी दो साथियों ने कोमल को पकड़कर रखा था। ऐसे में उसने सामने से कई वार किए। लहूलुहान हालत में कोमल को छोड़कर तीनों कवर्धा और महासमुंद में अपने परिचित के घर जाकर छुप गए।

Related Articles

Back to top button
Close
Close