India

मध्यप्रदेश में अब RSS के विचार भी पढ़ाए जाएंगे MBBS के छात्रों को, छात्रों के बौद्धिक विकास के लिए देश के विचारकों के सिद्धांत और वैल्यू बेस्ड मेडिकल एजुकेशन को किया जायेगा शामिल

मेडिकल छात्रों के फाउंडेशन कोर्स में इसे इसी सत्र से बतौर लेक्चर जोड़ा है।

भोपाल: मध्यप्रदेश में एमबीबीएस के छात्रों को अब आरएसएस के विचार पढ़ाए जाएंगे। मेडिकल छात्रों के फाउंडेशन कोर्स में इसे इसी सत्र से बतौर लेक्चर जोड़ा जा रहा है। इसमें छात्रों के बौद्धिक विकास के लिए देश के विचारकों के सिद्धांत और वैल्यू बेस्ड मेडिकल एजुकेशन को शामिल किया जाएगा

इसके लिए जिन विचारकों को चुना गया है उनमें आयुर्वेद विषारद के रूप में विख्यात महर्षि चरक, सर्जरी के पितामह आचार्य सुश्रुत के साथ, स्वामी विवेकानंद, आरएसएस के संस्थापक डॉ. केशव बलिराम हेडगेवार, जनसंघ के संस्थापक पं. दीनदयाल उपाध्याय और डॉ. भीमराव आंबेडकर शामिल हैं।

बता दें कि चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग ने 25 फरवरी को इसके लिए बाकायदा एक नोटशीट विभाग के अफसरों को भेजी थी। सुझाव मांगने पांंच सदस्यों की कमेटी बनाई गई थी। उन्हीं सुझावों के आधार पर विचारों के सिद्वांत, जीवन दर्शन के महत्व वाले लेक्चर को फाउंडेशन कोर्स में पढ़ाए जाने के लिए शामिल किया गया है।

दूसरी ओर इसे लेकर अब नई राजनीति बहस छीड़ गई है। पूर्व मंत्री पीसी शर्मा ने दोहा बोलकर इस फैसला पर निशाना साधा है। पीसी शर्मा ने कहा कि MBBS पढ़-पढ़ जग मुआ,डॉ बने न कोऊ, 5-5 अक्षर हेडगेवार और दीनदयाल के,पढ़े तो डॉक्टर होऊ हरि ॐ।

Related Articles

Back to top button
Close
Close