Uncategorized

*भोपाल: मोहर्रम पर नही निकलेगा जुलूस,गणेश उत्सव में रहेगी सशर्त छूट*

एनजीटी के निर्देशों का सख्ती से पालन करवाया जाएगा

भोपाल: राजधानी में मोहर्रम पर शुक्रवार को जुलूस नहीं निकलेगा। वहीं गणेश उत्सव मनाने के लिए सशर्त मनाने के लिए भी सशर्त छूट दी जाएगी। एनजीटी के निर्देशों का सख्ती से पालन करवाया जाएगा

कलेक्टर अविनाश लवानिया ने इस संबंध में सभी एसडीएम और तहसीलदारों को निर्देश दे दिए है। कलेक्टर ने स्पष्ट कहा है कि मोहर्रम का जुलूस निकालने पर कार्रवाई की जाएगी। कोरोना नियमों का पालन कराने में कोई कोताही न बरती जाए।

दरअसल, 15 जून से भोपाल जिले में लागू धारा 144 के तहत प्रतिबंधात्मक आदेश जारी है और आदेश के तहत धरना, प्रदर्शन तथा जुलूस के आयोजन पर प्रतिबंध है। कलेक्टर एवं जिला मजिस्ट्रेट अविनाश लवानिया के निर्देश पर अतिरिक्त जिला दण्डाधिकारी ने सभी एसडीएम को निर्देश दिए है कि अपने-अपने थाना क्षेत्रों में शांति समिति की बैठक आयोजित करें और बैठकों में बताया जाए कि जुलूस, धरना, जलसा, ज्ञापन, पांच लोगों से अधिक का एकत्रीकरण आदि पर प्रतिबंध लगा हुआ है। इसके चलते किसी भी प्रकार का आयोजन प्रतिबंधित रहेगा। जिले में जुलूस, जलसा, धरना आदि पर प्रतिबंध जारी है। किसी भी प्रकार के धार्मिक, सांस्कृतिक सामाजिक और राजनैतिक समारोह और आयोजन पर प्रतिबंध है। इस दौरान कोरोना गाइडलाइन का पालन करना अनिवार्य है और शासन के निर्देशानुसार सभी प्रतिबंधात्मक आदेश का सभी एसडीएम और पुलिस अधिकारी पालन कराना सुनिश्चित करें।

*पीओपी की मूर्तियां मिली तो होंगी जब्त*

इधर, कलेक्टर ने कहा कि गणेश उत्सव को लेकर एनजीटी के निर्देश पर पालन करवाया जाएगा। पीओपी की मूर्ति मिली तो उसे जब्त कर लिया जाएगा। सिर्फ मिट्टी की मूर्तियां बनाने की अनुमति रहेगी। कलेक्टर ने कहा कि छह फीट से ऊंची मूर्तियां बनाने की भी अनुमति नहीं होगी। बता दें कि 10 सितंबर को गणेश चतुर्थी है। इससे पहले कई मूर्तिकार भोपाल में मूर्तियां बनाना शुरू कर चुके है। इसके चलते कई पीओपी की मूर्तियां भी शहर में बनाई जा चुकी है

Related Articles

Back to top button
Close
Close