Uncategorized

बहू को किराएदार के साथ आपत्तिजनक हालत में देख रिटायर्ड फौजी ख़ुद पर नहीं रख पाया काबू, सिर पर सवार हुआ खून, आधे घंटे में ही कर दीं 4 हत्‍याएं

मासूम बच्चियों को भी नहीं छोड़ा

गुड़गांव : सोमवार देर रात 2 बजे पत्नी संगीता के साथ मिलकर रिटायर्ड फौजी ने पहले अपनी 11 साल की पोती को कमरे में बंद कर दिया। उसके बाद आधे घंटे के अंदर ही 4 हत्याएं कर दीं। सबसे पहले पुत्रवधु पर सोते हुए धारदार हथियार से वार किया, इसके बाद किराएदार, उसकी पत्नी और उसकी दोनों बच्चियों पर वार किया। इनमें से बस एक 3 साल की बच्ची बच गई, जो अब मौत जिंदगी के बीच झूल रही है।

पलिस के मुताबिक, आरोपित ने अपना जुर्म कबूल करते हुए बताया है कि जनवरी महीने में इसने कृष्ण तिवारी व पुत्रवधू को आपत्तिजनक हालत में देख लिया था। इसके बाद से उसके सिर पर खून सवार था। किराएदार उसके तुरंत बाद अपने गांव चला गया था। अब कुछ दिन पहले ही वह लौटा था, इसके बाद भी इनके बीच झगड़ा हुआ था। बिहार जाने के बाद भी वह पुत्रवधू से बात करता।

आरोपित ने बताया कि वह दूसरी मंजिल पर किराएदार के कमरे में पहुंचा तो वहां जाते ही कृष्ण तिवारी पर लगातार कई वार कर उसकी हत्या कर दी। तब उसकी पत्नी अनामिका जाग गई और रोने लगी। अनामिका ने कहा कि पति को मार दिया तो मुझे भी मार दो, मैं अब जीकर क्या करूंगी। इसके बाद उसने अनामिका पर भी वार करके हत्या कर दी।

आरोपित ने कुबूल किया है कि दंपती की हत्या के बाद इसने सोचा कि अब इन अनाथ बच्चियों की जिंदगी बर्बाद हो जाएगी। इतनी हत्या कर दी है तो इन्हें भी मार देता हूं, ताकि इन्हें आगे परेशान न होना पड़े। आरोपित की पत्नी ने पति को रोकने का प्रयास नहीं किया। प्लान के मुताबिक, ढाई बजे तक हत्या कर दोनों बैठे रहे। फिर करीब पौने 6 बजे आरोपित थाने जाने के लिए घर से निकल गया। वारदात से ठीक एक दिन पहले आरोपित का बेटा खाटू श्याम चला गया था। अब पुलिस यह जांच कर रही है कि कहीं प्लान के तहत बेटे को खाटू श्याम तो नहीं भेजा गया था।

Related Articles

Back to top button
Close
Close