AutomobileBilaspurBollywoodChhattisgarhDelhiEconomyEntertainmentFinanceGadgetsGaurella pendra marwahiIndiaKorbaMumbaiNew DelhiPoliticsRaipurSportsUncategorizedWorldअम्बिकापुरमुंगेली

बहुत काम की खबर:देश में बुजुर्गों को लग रहा बूस्टर डोज, जानिए वैक्सीन लगवाने से पहले और बाद में क्या करें और क्या नहीं?

नीतेश वर्मा

ब्यूरो हेड

देश में बढ़ते कोरोना के बीच 10 जनवरी से गंभीर बीमारी से पीड़ित बुजुर्गों को बूस्टर डोज देने की शुरुआत हो चुकी है। स्वास्थ्य कर्मी और फ्रंटलाइन वर्कर्स को भी वैक्सीन की तीसरी खुराक दी जा रही है। पहले ही दिन करीब 10 लाख लोगों को बूस्टर डोज दिया गया। इस अभियान में लगभग 5.75 करोड़ लोगों को प्रिकॉशन डोज (बूस्टर) दिया जाएगा।

आज हम आपको बताएंगे कि बुजुर्गों को बूस्टर डोज कैसे लगेगा? लगवाने से पहले क्या करना होगा? सेंटर पर क्या प्रक्रिया होगी और वैक्सीन लगवाने के बाद क्या करने की जरूरत पड़ सकती है…

क्या 60 साल से ज्यादा उम्र के सभी बुजुर्गों को बूस्टर डोज लगेगा?

नहीं, सभी बुजुर्ग कोरोना वैक्सीन की तीसरी खुराक नहीं ले सकते हैं। बूस्टर डोज सिर्फ उन बुजुर्गों को दिया जाएगा जो हार्ट डिजीज, डायबिटीज, किडनी या किसी अन्य गंभीर बीमारी से पीड़ित हों। स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा है कि ऐसे बुजुर्ग अपने डॉक्टर की सलाह के बाद ही बूस्टर डोज लें।

Advertisement
Advertisement

बूस्टर डोज और वैक्सीन की दूसरी खुराक में कितने दिन का गैप होना चाहिए?

कोरोना वैक्सीन के दूसरे डोज और बूस्टर खुराक के बीच 9 महीने का गैप होना चाहिए। यानी, अगर आपने 9 महीने पहले दूसरी खुराक ली है तो आप बूस्टर डोज लगवा सकते हैं। अगर 9 महीने से कम वक्त हुआ है तो आप तीसरा डोज नहीं ले पाएंगे।

कैसे पता चलेगा कि कौन से बुजुर्ग बूस्टर डोज ले सकते हैं?

जिन बुजुर्गों को बूस्टर डोज लगना है उनके पास स्वास्थ्य मंत्रालय की तरफ से एक मैसेज भेजा जा रहा है। ये मैसेज उन लोगों को दिया जा रहा है जिन्होंने 9 महीने पहले वैक्सीन का दूसरा डोज ले रखा है। स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा है कि अगर आपको मैसेज नहीं मिल रहा है तो आप अपने दूसरे खुराक का समय देख लें।

डॉक्टर का सर्टिफिकेट दिखाना जरूरी है?

प्रिकॉशन डोज (बूस्टर डोज) लेने वाले बुजुर्गों को अपने डॉक्टर से सलाह लेना जरूरी है, लेकिन डॉक्टर के सर्टिफिकेट की जरूरत नहीं पड़ेगी। यानी, 60 साल से ज्यादा उम्र के बुजुर्ग डॉक्टर के सर्टिफिकेट के बगैर भी बूस्टर डोज ले सकते हैं।

क्या बूस्टर डोज के लिए बुजुर्गों को पैसे देने पड़ेंगे?

अगर आप कोरोना वैक्सीन की तीसरी खुराक (बूस्टर डोज) सरकारी अस्पताल में लगवाने जाएंगे तो आपको फ्री में वैक्सीन लगाई जाएगी। इसके लिए पैसे देने की जरूरत नहीं पड़ेगी।

वैक्सीनेशन सेंटर पर कौन से डॉक्युमेंट्स ले जाने होंगे?

वैक्सीनेशन सेंटर पर अपने साथ वोटर ID कार्ड, आधार कार्ड, पासपोर्ट या ड्राइविंग लाइसेंस लेकर जाएं। इसके अलावा आप चाहे तो स्वास्थ्य मंत्रालय से मान्यता प्राप्त कोई भी डॉक्युमेंट ले जा सकते हैं।

बूस्टर डोज लगने के बाद कोई सर्टिफिकेट मिलेगा क्या?

पिछली बार की तरह इस बार भी वैक्सीनेशन सेंटर से बूस्टर डोज लगने के बाद एक सर्टिफिकेट आपके रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर आ जाएगा।

कोई भी वैक्सीन बूस्टर डोज में लगवा सकते हैं?

नहीं, बूस्टर डोज में आपको वही वैक्सीन लगाई जाएगी जिसकी दो खुराक आपको पहले लग चुकी हैं। अगर आपने कोवैक्सिन की 2 खुराक पहले ली हैं तो बूस्टर डोज में भी कोवैक्सिन ही लगाई जाएगी। अगर आपने कोवीशील्ड की 2 खुराक ली हैं तो इसी की बूस्टर डोज आपको लगेगी।

 

 

Article source – Dainik bhaskar

 

Related Articles

Back to top button
Close
Close