AutomobileBilaspurChhattisgarhEntertainmentGadgetsGaurella pendra marwahiIndiaRaipurUncategorizedWorld

तालाबों की सफाई के लिए जूता पॉलिश:भिलाई में पूर्व पार्षद सड़क पर बैठे, रुपए एकत्र कर निगम में किया जमा; अफसरों ने कहा था बजट नहीं

टीम मानवता भी ऐसे ही प्रदर्शन की तैयारी में

नीतेश वर्मा

ब्यूरो हेड

प्रदेश में हर तरफ तालाबों की स्थिति ख़राब , ना तो इनकी सफाई की जा रही ना ही जल सरंक्षण पर ध्यान दिया जा रहा है।

भिलाई के तालाबों की सफाई व्यवस्था को लेकर भाजपा नेता और पूर्व पार्षद पीयूष मिश्रा ने लोगों के जूते-चप्पल पॉलिश कर विरोध प्रदर्शन किया। बुधवार दोपहर अपने कार्यकर्ताओं के साथ वह नगर निगम भिलाई के वैशाली नगर जोन कार्यालय के सामने विरोध दर्ज कराने बैठे। इस दौरान जो भी लोग वहां आ रहे थे प्रदर्शनकारी उनके जूते पॉलिश करके और गाड़ी को पोछ कर चंदा मांग रहे थे। इसके बाद जो भी चंदा इकट्ठा हुआ उसे ले जाकर उन्होंने जोन कार्यालय में जमा किया और कहा कि यह शहर और तालाबों की सफाई व्यवस्था के लिए आमजन का सहयोग है।

जूता पॉलिश कर के फण्ड इक्कठा करते पार्षद

 

बिलासपुर शहर में भी ऐसे तालाबों की भरमार है जहाँ उनका पानी प्रदूषित हो चुका है, नालियों का पानी तालाबों में जा रहा है, जलकुंभी पूरे तालाब में फैल चुकी है, टीम मानवता द्वारा ऐसे ही तालाबों की लिस्ट बनाई गई और उनके द्वारा प्रथम चरण में सरकंडा क्ष्रेत्र के जोरा पारा तालाब को चुना गया।

टीम मानवता के उपाध्यक्ष श्री अभिषेक ठाकुर

टीम मानवता के उपाध्यक्ष श्री अभिषेक ठाकुर ने बताया कि तालाब की सफाई के लिए उनकी टीम से नगर निगम से भी सम्पर्क किया जहाँ उन्हें केवल आस्वासन मिला कि नालियों को बंद करा दिया जाएगा। पर अभी नगर निगम के पास तालाबो के साफ सफाई के लिए फण्ड नही है । 

भिलाई के पूर्व पार्षद पीयुष मिश्रा का कहना है कि छठ पर्व नजदीक है। तलाबों की अब तक साफ सफाई नहीं हुई। कहने पर निगम बजट न होने की दुहाई दे रहा है। इसलिए आंखें मूंदे बैठे निगम अधिकारियों को जगाने के लिए इस तरह का प्रदर्शन करना पड़ रहा है। कहा कि ठेकेदार ने वार्ड में काम करने वाले कर्मचारियों को फावड़ा, बेलचा हेड झाली, झाड़ू, सीवरेज सफाई के लिए राड ब्लीचिंग पावडर व सफाई के कार्य में उपयोग होने वाले अन्य संसाधन नहीं दिए हैं। ऐसे में वार्ड में साफ सफाई व्यवस्था दुरुस्त कर पाना संभव नहीं है।

Advertisement

नहीं जागा निगम तो अधिकारियों के घरों के सामने होगा प्रदर्शन

प्रदर्शनकारियों का कहना है कि यदि सहयोग राशि देने के बाद भी निगम प्रशासन नहीं जागा। समय पर तालाबों की सफाई, रंग रोगन प्रकाश व्यवस्था व सफाई व्यवस्था का कार्य नहीं किया गया तो सभी लोग नगर निगम व सभी जोन कार्यालय सहित नगर निगम के आयुक्त, स्वास्थ्य अधिकारी व जोन अधिकारियों के घऱों के सामने इसी तरह शांतिपूर्ण तरीके से धरना देकर उन्हें शहर के लिए जगाने का कार्य करेंगे।

Advertisement

Related Articles

Back to top button
Close
Close