Chhattisgarh

चिरिमिरी मे जिला मुख्यालय बनाओ की मांग को लेकर आज से क्रमिक भूख हड़ताल प्रारम्भ

यदि इस एक सूत्रीय मांग को नही माना गया तो आगे चरणबद्ध आंदोलन किया जाएगा जिसमे आमरण अनशन भी शामिल होगा।

दुर्गा केसरवानी कोरिया: चिरिमिरी जिला मुख्यालय बनाओ की मांग को लेकर मंच ने आज से क्रमिक भूख हड़ताल प्रारम्भ कर दिया है। क्रमिक भूख हड़ताल के पहले दिन तीन अनशनकारी श्रीमती शिखा सोनी, परवेज अहमद (बंटी) व ज्ञानचंद दुबे एक दिवसीय भूख हड़ताल पर बैठे।

यदि इस एक सूत्रीय मांग को नही माना गया तो आगे चरणबद्ध आंदोलन किया जाएगा जिसमे आमरण अनशन भी शामिल होगा। उक्ताशय की जानकारी चिरिमिरी जिला बनाओ मंच ने होटल अलवीना मेंआयोजित प्रेसवार्ता में दी।

 

पत्रकार वार्ता को संबोधित करते हुए मंच के नेता संजय सिंह ने कहा कि यह बात कोरी अफवाह है कि चिरिमिरी के पास राजस्व की भूमि नही है। चिरिमिरी कि पास 119एकड़ राजस्व की जमीन है। साजा पहाड़ में विद्युत विभाग की 100 एकड़ जमीन है। इसके साथ ही पुराने आईटीआई भवन के पास 9 एकड़ राजस्व की जमीन है।संयुक्त जिला कार्यालय के लिए कितने जमीन कीआवश्यकता होती है यह सभी को पता है। हाल में ही बने बैकुंठपुर और सूरजपुर जिले उदाहरण है।

प्रेसवार्ता को संबोधित करते हुए लोगों ने कहा कि हमारा विरोध किसी भी क्षेत्र का नही है। हमारी एक सूत्रीय मांग है कि संयुक्त जिला कार्यालय चिरिमिरी नगर पालिक निगम की परिधि में बने। महापौर और पार्षद चिरिमिरी के ही है। उनका दायित्व है कि वे सामने आकर मंच की मांग का समर्थन करे।

मंच के नेता उपेंद्र जैन ने कहा कि एक दिन पूर्व मंच केप्रतिनिधि मंडल ने विधानसभा अध्यक्ष डॉ. चरणदासमहंत से मिलकर अपनी मांग का ज्ञापन सौप चुके है।जल्द ही एक प्रतिनिधि मंडल रायपुर जाकर मुख्यमंत्रीभूपेश बघेल से मिलकर उन्हें अपनी मांग से अवगतकराएंगे।

पत्रकार वार्ता में चिरिमिरी जिला बनाओ मंच के संजयसिंह, शाहिद महमूद, उपेंद्र जैन, शेख इस्माईल, राकेश पराशर, जयंत सोनी, नीटू कोहली, अलीम, लक्की पराशर, नितिन सिंह व अन्य लोग उपस्थित रहे।

Related Articles

Back to top button
Close
Close