India

कोरोना का कहर ……माँ की अर्थी उठाने वाले 5 बेटो की मौत छठवा गंभीर

कोरोना का कहर ......माँ की अर्थी उठाने वाले 5 बेटो की मौत छठवा गंभीर

झारखंड में कोरोना का कहर : मां की अर्थी उठाने वाले 5 बेटों की मौत 6वाँ गंभीर

धनबाद 21 जुलाई। कोरोना ने भारत समेत पूरी दुनिया में कोहराम मचा रखा है। इस महामारी ने अब तक कई लोगों की जिदंगी ली है। झारखंड में तो कोरोना ने एक हंसते-खेलते पूरे परिवार को तबाह कर दिया। कोरोना की वजह से एक ही परिवार के 6 लोगों की मौत हो गई।

यह देश का पहला ऐसा इकलौता मनहूस मामला है कि कोरोना से पूरा परिवार खत्म हो गया। इस परिवार में सबसे पहले मां की कोरोना से मौत हुई फिर उनकी अर्थी को कंधा देने वाले पांच बेटों की एक-एक करके मौत हो गई। कोरोना से 15 दिनों में ही परिवार में छह लोगों की जान चली गई। वहीं अब मृतक महिला के छठें बेटे के अलावा परिवार के अन्य कई सदस्यों की भी तबीयत खराब बताई जा रही है।

मां और 5 बेटों की मौत
धनबाद के कतरास इलाके के रानी बाजार में रहने वाले एक परिवार के छठें सदस्य की सोमवार को कोरोना से मौत हो गई।

मिली जानकारी के अनुसार 4 जुलाई को सबसे पहले 88 साल की मां का निधन बोकारो के एक नर्सिंग होम में हुआ था। शव की जांच से पता चला कि वह कोरोना पॉजिटिव थी। उसके बाद उनके एक बेटे की मौत रांची के रिम्स कोविड अस्पताल में हुई। कुछ दिन बाद दूसरे बेटे की मौत केंद्रीय अस्पताल में इलाज के दौरान हुई। कोरोना का कहर यहीं हीं रुका। मृतक महिला का तीसरा बेटा धनबाद के एक निजी क्वारंटीन सेंटर में भर्ती था, वहां अचानक उसकी तबीयत इतनी खराब हो गई कि उसने भी दम तोड़ दिया।

16 जुलाई को चौथे बेटे का भी टीमएच जमशेदपुर में कैंसर बीमारी के इलाज के दौरान निधन हो गया। पांचवां बेटा भी धनबाद के कोविड अस्पताल में रेफर करने के बाद रिम्स रांची में भर्ती था, जहां सोमवार को उसने अंतिम सांस ली। ऐसे परिवार में मां और उसके पांच बेटों की मौत हो गई। महिला के छठें बेटे की तबीयत खराब बताई जा रही है।

स्थानीय लोगों ने बताया कि जहां पिछले महीने इस परिवार में शादी की शहनाई की गूंज थी और पूरा परिवार हंस-खेल रहा था वहीं कुछ ही दिनों में कोरोना ने परिवार को तबाह कर दिया।

Related Articles

Back to top button
Close
Close